English Version  
   
   Visitor Counter
CGMFPFED.ORG

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना

 

"Mechanism for Marketing of Minor Forest Produce (MFP) through Minimum Support Price (MSP) and Development of Value Chain for MFP"

  • "Mechanism for Marketing of Minor Forest Produce (MFP) through Minimum Support Price (MSP) and Development of Value Chain for MFP" यह योजना वर्ष 2013-14 में, जनजातीय मामलो के मंत्रालय (मोटा) सरकार द्वारा शुरू किया गया है।
  • यह योजना लघु वनोपज संग्रहण करने वालों के लिए उचित मूल्य सुनिश्चित करने के उद्देश्य से शुरू की गई थी।
  • जनजातीय सहकारी विपणन विकास संघ (ट्राईफेड) की सहायता से जनजातीय मामलों के मंत्रालय (मोटा) ने राज्य सरकार के माध्यम से इस योजना को लागू किया है।
  • छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति विकास विभाग इस योजना के लिए नोडल विभाग है और छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज (व्यापार और विकास) सहकारी संघ लिमिटेड इस योजना के लिए राज्य की खरीद एजेंसी (एसपीए) है।
  • विभिन्न लघु वनोपज के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य, मोटा, द्वारा विशेषज्ञों के परामर्श और क्रियान्वयन एजेंसियों से परामर्श कर निर्धारित किए जाते हैं।
  • जनजाती मामलों के भारत सरकार में निम्नलिखित लघु वनोपज संग्रहण वर्ष 2018-19 के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा की हैः -

  • क्र.

    लघु वनोपज का नाम

    न्यूनतम समर्थन मूल्य
    (रू. प्रति कि.ग्रा. में)

    बोनस मूल्य
    (रू. प्रति कि.ग्रा. में)

    कुल मूल्य
    (रू. प्रति कि.ग्रा. में)

    1.

    साल बीज

    12

    1

    13

    2.

    हर्रा

    8

    3

    11

    3.

    इमली

    18

    7

    25

    4.

    चिरौंजी गुठली

    93

    12

    105

    5.

    लाख (कुसमी)

    167

    33

    200

    6.

    लाख (रंगीनी)

    130

    NIL

    130

    7.

    महुआ बीज

    20

    2

    22



  • राज्य की चयन एजेंसी न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना के अंतर्गत आने वाले लघु वनोपज के लिए क्रय योजना तैयार करती है व प्रत्येक लघु वनोपज कितनी मात्रा में क्रय की जावेगी यह निर्धारित करती है और लघु वनोपज के निवर्तन तक इसके भण्डारण परिवहन व रख रखाव की व्यवस्था करती है। साथ ही साथ श्रम शक्ति व जरूरी फंड की व्यवस्था करने के लिए राज्य नोडल विभाग को पहले इसकी जानकारी दी जाती है।
  • इस योजना के अंतर्गत बजट प्राप्त करने के लिए नोडल विभाग इसे जन जातीय मामलों के मंत्रालय (मोटा) को भेजता है। मंत्रालय प्राप्त प्रस्ताव की जांच करता है और कार्यरत पूंजी को संबंधित राज्य को जारी करता है।
  • इस योजना के क्रियान्वयन के लिए कार्यरत पूंजी व हानि का 75% भारत शासन व कार्यरत पूंजी व हानि का 25% राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाता है।
  • राज्य क्रय एजेंसी इस योजना के लिए कार्य क्षेत्र पूंजी का एक पृथक खाता रखता है और न्यूनतम समर्थन मूल्य के क्रियान्वयन के लिए उस धन का इस्तेमाल करता है।
  • लघु वनोपज की बिक्री के बाद यदि लाभ अर्जित किया गया हो तो वह लाभ लघु वनोपज संग्रहणकर्ताओं को दिया जावेगा।
  • यदि नुकसान होता है तो भारत शासन और राज्य सरकार द्वारा 75:25 के आधार पर एक पृथक फंड के जरिये क्षति पूर्ति की जाएगी। हर राज्य उसी के लिए पूर्ण औचित्य देने वाले नुकसान की क्षतिपूर्ति के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत करेगा।
  • राज्य ने इस योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए मुख्य सचिव और संबंधित जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में राज्य स्तर, जिला स्तर समन्वयन और निगरानी समिति का गठन किया है। उपरोक्त समिति के सदस्य इस प्रकार हैः:-

  • राज्य स्तरीय समन्वय एवं अनुवीक्षण समिति

    1. मुख्य सचिव - अध्यक्ष
    2. अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ, रायपुर - विशेष आमंत्रित सदस्य
    3. अपर मुख्य सचिव, वित्त विभाग - सदस्य
    4. अपर मुख्य सचिव, आदिम जाति कल्याण विभाग - सदस्य
    5. प्रमुख सचिव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग - सदस्य
    6. प्रमुख सचिव, वन विभाग - सदस्य
    7. प्रधान मुख्य वन संरक्षक, छत्तीसगढ़ शासन - सदस्य
    8. क्षेत्रीय प्रबंधक ट्रायफेड - सदस्य
    9. प्रबंध संचालक, छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज - सदस्य सचिव (व्यापार एवं विकास) सहकारी संघ, रायपुर



    जिला स्तर समन्वय एवं मूल्यांकन समिति


    1. जिला कलेक्ट - अध्यक्ष
    2. क्षेत्रीय सांसद - सदस्य
    3. क्षेत्रीय विधायक - सदस्य
    4. अध्यक्ष जिला लघु वनोपज सहकारी यूनियन - सदस्य
    5. मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत - सदस्य
    6. सहायक आयुक्त, आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विभाग - सदस्य
    7. जिला लीड बैंक प्रबंधक - सदस्य
    8. जिला कलेक्टर के द्वारा नामांकित एक उपयुक्त - सदस्य गैर सरकारी संगठन जो कि आदिवासी विकास से जुड़ा हो।
    9. वन मंडलाधिकारी एवं प्रबंध संचालक - सदस्य सचिव।


  • राज्य जनशक्ति समर्थन के साथ संचालन के लिए पर्याप्त आधारभूत संरचना सुनिश्चित करेगा।
  • योजना की प्रगति इस प्रकार है- :
  • (a) प्राप्त राशि की जानकारी


    क्र..

    वर्ष

    75% भारत सरकार से
    (रू. करोड़ में)

    25% छत्तीसगढ़ सरकार से
    (रू. करोड़ में)

    कुल
    (रू. करोड़ में)

    1.

    2014-15

    80.16

    13.22

    93.38

    2.

    2015-16

    73.50

    15.22

    88.72

    3.

    2016-17

    ---

    15.00

    15.00

    4.

    2017-18

    ---

    7.81

    7.81

     

    Total

    153.66

    51.25

    204.91

 

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजनांतर्गत लघु वनोपज का क्रय वर्ष 2014-15


क्र.

लघु वनोपज का नाम

अनुमानित मात्रा
(क्विंटल में)

वास्तविक संग्रहित मात्रा
(क्विंटल में)

व्यय
(रू. करोड़ में)

1.

साल बीज

1,25,000

1,25,676

16.29

2.

हर्रा

30,000

34,645

4.85

3.

इमली

85,000

35,446

8.99


 

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजनांतर्गत लघु वनोपज का क्रय वर्ष 2015-16


क्र.

लघु वनोपज का नाम

अनुमानित मात्रा
(क्विंटल में)

वास्तविक संग्रहित मात्रा
(क्विंटल में)

व्यय
(रू. करोड़ में)

1.

साल बीज

1,96,655

1,11,983

14.51

2.

हर्रा

60,000

57,127

8.00

3.

इमली

55,000

894

0.23

4.

चिरौंजी गुठली

18,700

6,329

6.97

5.

महुआ बीज

25,000

4,856

1.17

6.

कुसमी लाख

2,000

3,337

11.50

7.

रंगीनी लाख

3,000

1,400

3.48

 

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजनांतर्गत लघु वनोपज का क्रय वर्ष 2016-17


क्र.

लघु वनोपज का नाम

अनुमानित मात्रा
(क्विंटल में)

वास्तविक संग्रहित मात्रा
(क्विंटल में)

व्यय
(रू. करोड़ में)

1.

साल बीज

1,50,000

2,808

0.36

2.

हर्रा

60,000

3,088

0.34

3.

चिरौंजी गुठली

10,000

7,754

8.55

4.

महुआ बीज

15,000

51

0.12

5.

कुसमी लाख

3,000

3,506

12.08

6.

रंगीनी लाख

2,000

1,011

2.51

 

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजनांतर्गत लघु वनोपज का क्रय वर्ष 2017-18


क्र.

लघु वनोपज का नाम

अनुमानित मात्रा
(क्विंटल में)

वास्तविक संग्रहित मात्रा
(क्विंटल में)

व्यय
(रू. करोड़ में)

1.

साल बीज

1,50,000

1,23,126

14.36

2.

हर्रा

50,000

279

0.03

3.

चिरौंजी गुठली

10,000

136

0.10

4.

महुआ बीज

20,000

1,490

0.33

5.

कुसमी लाख

5,000

23

0.04

6.

रंगीनी लाख

2,500

156

0.18


 

न्यूनतम समर्थन मूल्य योजनांतर्गत लघु वनोपज का क्रय वर्ष 2018-19 (As on 30.09.2018)


क्र.

लघु वनोपज का नाम

अनुमानित मात्रा
(क्विंटल में)

वास्तविक संग्रहित मात्रा
(क्विंटल में)

व्यय
(रू. करोड़ में)

1.

साल बीज

2,25,000

1,224.68

0.16

2.

चिरौंजी गुठली

7,000

1472.71

1.70

3.

महुआ बीज

11,000

4.50

0.001

4.

कुसमी लाख

5,000

851.83

1.91

5.

रंगीनी लाख

1,500

365.021

0.54


संग्रहण वर्ष 2018-19 में साल बीज, चिरौंजी गुठली, महुआ बीज, कुसुमी लाख तथा रंगीनी लाख का संग्रहण प्रगति पर है|